यशोभूमि कन्वेंशन सेंटर क्या है: देश के प्रधानमंत्री का एक खास उपहार

यशोभूमि कन्वेंशन सेंटर क्या है

यशोभूमि कन्वेंशन सेंटर क्या है: देश के प्रधानमंत्री का एक खास उपहार

यशोभूमि कन्वेंशन सेंटर क्या है: नरेंद्र मोदी ने भारत को समर्पित किया दुनिया के सबसे बड़े एग्जीबिशन और कन्वेंशन सेंटर को, जिसे यशुभूमि कहा जाता है। यह सेंटर लाखों लोगों को रोजगार देने का एक महत्वपूर्ण कदम है, जिसमें विशेष ध्यान दिया जा रहा है।

यशुभूमि कन्वेंशन सेंटर एक ऐसा स्थल है जो भारतीय राष्ट्र को समर्पित किया गया है और इसके खास आकर्षणों में से एक है। यह सेंटर विशेष रूप से राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर की मीटिंग, कॉन्फ्रेंस, एक्जिबिशन, और पेड़ शो के लिए डिज़ाइन किया गया है। इसमें कई विश्व-स्तरीय सुविधाएँ होंगी, और यह दुनिया के सबसे बड़े एग्जीबिशन और कन्वेंशन सेंटरों में से एक बनने की संभावना है।

यशोभूमि कन्वेंशन सेंटर क्या है
यशोभूमि कन्वेंशन सेंटर क्या है

यशोभूमि कन्वेंशन सेंटर के द्वारा प्राकृतिक और व्यक्तिगत संवाद के माध्यम से भारतीय अर्थव्यवस्था को बढ़ावा मिलेगा। यशोभूमि कन्वेंशन सेंटर के अधिकारियों ने बताया कि यहां हर साल कई राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय ईवेंट्स होंगे, जिससे प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से करीब पाँच लाख लोगों को रोजगार मिलेगा।

यशुभूमि कन्वेंशन सेंटर में कई बड़ी मीटिंग हॉल्स होंगे, जिनमें से प्रत्येक में हजारों लोगों को बैठाने की क्षमता होगी। इसके अलावा, पार्किंग की सुविधा भी होगी, और इसमें इलेक्ट्रॉनिक चार्जिंग पॉइंट्स की भी बहुत अच्छी तरह से व्यवस्था की गई है, जिससे गाड़ियों की चार्जिंग की समस्या को सुलझाने में मदद मिलेगी।

यशोभूमि कन्वेंशन सेंटर के डिज़ाइन में भारतीय संस्कृति का प्रतिष्ठान होगा, जिसमें पीतल की जलाई और रंगोली पैटर्न भी शामिल होंगे। सेंटर में वीआईपी लॉन्च क्लॉक सुविधाएँ भी होंगी, जिनमें विभिन्न सहायता क्षेत्रों के लिए सुविधाएँ उपलब्ध होंगी।

इसके साथ ही, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पीएम विश्वकर्मा योजना की शुरुआत की है, जिसमें शिल्पकारों और कारीगरों को मॉडर्न तरीके से काम करने के लिए सहायता और अद्यतन टूल्स प्रदान की जा रही है। इस योजना के तहत लाखों परिवारों को लाभ मिलेगा और यह सुनिश्चित करेगा कि हमारे समाज के शिल्पी और कारीगर भी आधुनिक व्यवसाय की दुनिया में अपनी जगह बना सकें।

यशोभूमि कन्वेंशन सेंटर द्वारा प्राप्त ये खास उपहार देश के लिए एक महत्वपूर्ण कदम है, जो रोजगार के अवसरों को बढ़ावा देगा और भारतीय अर्थव्यवस्था को मजबूत करने में मदद करेगा।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *