17 वर्षीय दिव्या देशमुख ने ताटा स्टील शतरंज महिला रैपिड खिताब जीता

17 वर्षीय दिव्या देशमुख ने ताटा स्टील शतरंज महिला रैपिड खिताब जीता

17 वर्षीय दिव्या देशमुख ने ताटा स्टील शतरंज महिला रैपिड खिताब जीता

17 वर्षीय दिव्या देशमुख ने ताटा स्टील शतरंज महिला रैपिड खिताब जीता: भारत की दिव्या देशमुख ने शनिवार को कोलकाता में ताटा स्टील शतरंज महिला रैपिड खिताब जीतकर बड़ा उलटफेर किया। 17 वर्षीय, जिन्हें टूर्नामेंट में एक मिनट के भीतर प्रतिस्थापन के रूप में आमंत्रित किया गया था, ने 7/9 के स्कोर के साथ, गत विश्व चैंपियन जु वेनजुन से आधा अंक आगे रहते हुए समाप्त किया।

देशमुख, जो क्षेत्र में सबसे कम रेटेड खिलाड़ी हैं, ने नेशनल लाइब्रेरी में एक सपना चला। उन्होंने टूर्नामेंट की शुरुआत तीन लगातार जीत के साथ की और पहले तीन राउंड के बाद fellow भारतीय IM वंतीका अग्रवाल के साथ संयुक्त लीड में थीं। उन्होंने अगले चार राउंड में तीन और जीत दर्ज की और अकेले लीड में आ गए।

खिताब की जीत के साथ, देशमुख को अंतिम राउंड में दूसरे वरीयता प्राप्त कोनेरु हंपी पर जीत के साथ खिताब हासिल हुआ, जबकि चीनी जीएम को उशेनिना द्वारा ड्रॉ पर रोका गया, जिससे भारतीय का कारण और बढ़ गया।

17 वर्षीय दिव्या देशमुख ने ताटा स्टील शतरंज महिला रैपिड खिताब जीतकर इतिहास रच दिया

भारतीय महिला शतरंज में एक नया नक्षत्र उदय हुआ है। 17 वर्षीय दिव्या देशमुख ने ताटा स्टील शतरंज महिला रैपिड खिताब जीतकर इतिहास रच दिया है। उन्होंने यह खिताब गत विश्व चैंपियन जु वेनजुन से आधा अंक आगे रहते हुए जीता।

देशमुख ने टूर्नामेंट में शानदार प्रदर्शन किया। उन्होंने पहले तीन राउंड में तीन जीत दर्ज की और फिर अगले चार राउंड में तीन और जीत दर्ज की। उन्होंने अंतिम राउंड में दूसरे वरीयता प्राप्त कोनेरु हंपी को हराकर खिताब अपने नाम किया।

देशमुख का यह जीत भारतीय महिला शतरंज के लिए एक बड़ी उपलब्धि है। उन्होंने यह खिताब सबसे कम रेटेड खिलाड़ी के रूप में जीता है, जो उनके प्रदर्शन को और भी खास बनाता है। यह जीत उन्हें अगले साल होने वाले FIDE महिला विश्व कप के लिए भी एक मजबूत दावेदार बनाती है।

देशमुख के इस जीत से भारतीय महिला शतरंज में एक नई उम्मीद का संचार हुआ है। उम्मीद है कि वह भविष्य में और भी बेहतर प्रदर्शन करेंगी और भारत को विश्व महिला शतरंज में गौरवान्वित करेंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *