Indian Army प्रतिशोध के लिए तैयार, आतंकवादियों को हर पल खत्म करने को तैयार

Indian Army प्रतिशोध के लिए तैयार

Indian Army प्रतिशोध के लिए तैयार, आतंकवादियों को हर पल खत्म करने को तैयार

Jammu Kashmir: indian army प्रतिशोध के लिए तैयार है। अपने तीन जवानों को मार गिराने वाले आतंकवादियों को मार गिराने के लिए तैयार है। पहले ही आतंकवादियों को घेर चुके सुरक्षा बल उन्हें हर पल खत्म करने में सक्षम हैं।

बृहस्पतिवार को जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग जिले के कोकरनाग में आतंकवादियों के साथ हुई भीषण मुठभेड़ में दो भारतीय सेना के अधिकारी और एक पुलिस उपाधीक्षक (डीएसपी) शहीद हो गए। शहीद हुए अधिकारियों में कर्नल मनप्रीत सिंह, मेजर आशीष धानोक और डीएसपी हुमायूं भट शामिल हैं। 19 राष्ट्रीय राइफल्स के कमांडिंग ऑफिसर कर्नल सिंह मौके पर ही शहीद हो गए, जबकि गंभीर रूप से घायल मेजर धानोक और डीएसपी भट इलाज के दौरान शहीद हो गए।

इस हमले की जिम्मेदारी लश्कर-ए-तोइबा (एलईटी) ऑफशूट द रेजिस्टेंस फ्रंट ने ली है। इस महीने की शुरुआत में पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) में अपने अनुभवी नेता को मारने के बदले कार्रवाई के रूप में इस हमले को अंजाम दिया गया है।

ख़ासीम अलीयाज़ उर्फ़ रियाज़ अहमद को 8 सितंबर को पीओके के रावलकोट क्षेत्र के अल-ख़ुदूस मस्जिद में भारतीय सेना ने बहुत करीब से गोली मारकर मार डाला था। इससे उनके अनुयायियों में गुस्सा भड़क गया, जिससे कोकरनाग में प्रतिशोध की कार्रवाई हुई। अहमद के पिता भी एक आतंकवादी थे। वह 2005 में मारे गए थे।

बृहस्पतिवार को आतंकवादियों ने भारतीय सेना पर हमला कर तीन अधिकारियों को मार डाला। अगले दिन ही प्रतिशोध लेने के लिए भारतीय सेना ने आज अनंतनाग में काउंटर टेरर ऑपरेशन शुरू कर दिया। जम्मू-कश्मीर पुलिस ने शुक्रवार को बताया कि दो आतंकवादियों को घेर लिया गया है। आतंकवादियों में से एक को उज़ैर ख़ान के रूप में पहचाना गया है। इससे लगता है कि भारतीय सेना जल्द ही उन्हें खत्म करने में सक्षम होगी।

यह हमला भारतीय सैनिकों के लिए एक बड़ा झटका है। यह एक बार फिर साबित करता है कि आतंकवादियों को खत्म करने के लिए कड़ी कार्रवाई की जरूरत है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *