uttarakhand weather: उत्तराखंड में बादल फटे, लैंडस्लाइड, हल्द्वानी-नैनीताल हाईवे भी बंद… नए दिन में मुसीबतों का सामना

uttarakhand weather

uttarakhand weather: उत्तराखंड में हो रही बारिश की घटनाएं: यमुना घाटी में बढ़ रहा कहर, स्कूलों में भी पानी भर गया | मौसम अपडेट 2023

उत्तराखंड के मौसम में घटित हो रही बारिश से जुड़ी खबरें। राज्य के कई स्थानों पर बादल फटने से घटित रोमांचक पलों का सामना करें। यमुना घाटी में खूबसूरती का कायल हो जाएं और राजतार में उफान पर हुई नालों की बरसात का अनुभव करें। जानें कैसे बारिश ने बदला उत्तराखंड का मौसम और किस तकनीकी टीम ने स्कूलों में पानी भरने की जाँच की। पढ़िए विस्तृत रिपोर्ट और नैतिक सुझाव इस मौसम विशेष पर।

चलो बात करते हैं उत्तराखंड के मौसम की! यहाँ पर वाकई बड़ी रौंगतरंगी चल रही है क्योंकि शुक्रवार रात से लगातार बारिश हो रही है। और देखो, इन बारिशों ने कुछ बेहद रोमांचक पलों को भी साथ ले आए। कुछ जगहों पर तो बादलों का फटना हुआ है। यमुना घाटी में भी बड़ी बारिश के कारण हाहाकार मच गया है, और राजतार में तीन नाले बह रहे हैं। इस खूबसूरत बारिश के कारण, कई जगहों पर पत्थर और बर्फ सड़ गई है, जिसके कारण राष्ट्रीय तत्वावधान टीम भी कुछ जगहों तक नहीं पहुंच पाई। कुछ स्कूलों में पानी भर गया है, जिसकी जांच के लिए एसडीआरएफ टीम भी पहुंच गई है। धन्यवाद, अभी तक कोई नुकसान की ख़बर नहीं है, पर बिजली सप्लाई प्रभावित हो गई है।


यह भी पढ़े –  पर्यावरण और जलवायु परिवर्तन


 

uttarakhand weather: 24 घंटे का ऑरेंज अलर्ट जारी – बारिश, बदल फटे, लैंडस्लाइड, हाईवे बंद!

आइए मौसम की पूर्वानुमान की चर्चा करें। मौसम विभाग ने उत्तराखंड के सात जिलों के लिए आगामी 24 घंटों के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। हरिद्वार, उत्तरकाशी, टिहरी, पौड़ी, देहरादून, पिथौरागढ़, और बागेश्वर को शनिवार को दोपहर तक भारी बारिश का सामना करना पड़ सकता है। तो जल्दी से छाते और जुते निकलो!

मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक डॉ. विक्रम सिंग्ग के मुताबिक, 23 जुलाई को पिथौरागढ़, बागेश्वर, उत्तरकाशी, रुद्रप्रयाग, और चमोली जिलों में भी थोड़ी-बहुत भारी बारिश हो सकती है। लेकिन चिंता न करें, 24 जुलाई को देहरादून, पौड़ी, चमोली, नैनीताल, पिथौरागढ़, और बागेश्वर में आमतौर पर हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है।

गांवों का संपर्क टूट गया – uttarakhand weather update

आइए कुछ मौसम से जुड़ी घटनाओं के बारे में भी चर्चा करें। पौड़ी के थलीसैंण में शुक्रवार शाम को अचानक बादल फट गए, जिससे सड़कें बर्फ से भर गईं। इसके कारण रास्ते बंद हो गए हैं। इसके अलावा, यमुनोत्री और बदरीनाथ के रास्ते भी बंद कर दिए गए हैं। समाचार मीडिया के अनुसार, 85 से ज्यादा रास्ते मलबे के कारण बंद हो गए हैं। इसके साथ ही, 200 से अधिक गांवों से संपर्क काट गया है। वैसे ही, चमोली में लगातार बारिश के कारण राष्ट्रीय राजमार्ग 109 गैरसैंण से कर्णप्रयाग के बीच में काफी नुकसान हुआ है। वहां के संचार लाइन भी बंद हो गई है और लोग दूसरे स्थानों से जुड़े हुए हैं। हम सभी को सुरक्षित रहने की शुभकामनाएँ! आशा करते हैं कि मौसम जल्द ही शांत हो जाएगा और जिन्हें समर्थन की आवश्यकता है, उन्हें उचित सहायता मिलेगी।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *