Table of Contents

World Hepatitis Day 2023: जाने क्या है वर्ल्ड हेपेटाइटिस डे यह हेपेटाइटिस कितने प्रकार के होते है

इस व्यापक लेख में हेपेटाइटिस और इसके विभिन्न प्रकारों के बारे में जानें। जागरूकता बढ़ाने के World Hepatitis  Day 2023 के महत्व को खोजें। रोकथाम, जांच, और उपचार विकल्पों के बारे में अनमोल जानकारी प्राप्त करें। साथ ही, विश्व हेपेटाइटिस दिवस 2023 का अवलोकन भी मिलेगा।

हर साल 28 जुलाई को मनाए जाने वाला विश्व हेपेटाइटिस दिवस वायरल हेपेटाइटिस के खिलाफ लड़ाई में जागरूकता बढ़ाने और लोगों को इस समस्या से बचाने के लिए कदम उठाने का अहम दिन है। यह दिन विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) द्वारा और अन्य संगठनों के साथ तय किया गया है, ताकि यह विशेष तारीख डॉक्टर बारूच सैमुएल ब्लंबर्ग के जन्मदिन से मेल खाए। डॉक्टर ब्लंबर्ग ने हेपेटाइटिस बी वायरस का खोज करने के लिए नोबेल पुरस्कार प्राप्त किया था।

विश्व हेपेटाइटिस दिवस के प्रमुख उद्देश्य हैं:

  1. जागरूकता फैलाना: वायरल हेपेटाइटिस, इसके प्रसार के तरीके और समय रहते डिटेक्शन और रोकथाम के महत्व के बारे में लोगों और समुदायों को शिक्षित करना।
  2. संसाधनों को जुटाना: सरकारें, स्वास्थ्य संगठन और हितधारकों को प्रोत्साहित करना कि वे वायरल हेपेटाइटिस को नियंत्रित करने और रोकने के लिए सकारात्मक उपायों को लागू करें।
  3. टेस्टिंग और उपचार को प्रोत्साहित करना: वायरल हेपेटाइटिस के संक्रमण की जांच और निदान में बढ़ोतरी के लिए प्रोत्साहित करना, ताकि गंभीरता से प्रभावित व्यक्तियों को समय रहते उचित चिकित्सा सेवा और उपचार मिल सके।
  4. स्तिग्मा और भेदभाव को खत्म करना: वायरल हेपेटाइटिस संक्रमण से जुड़े सामाजिक स्तिग्मा और भेदभाव का सामना करना, जो रोकथाम के प्रयासों और प्रभावित व्यक्तियों को चिकित्सा सेवा तक पहुंचने में बाधा बन सकता है।
  5. रोकथाम के प्रयासों का समर्थन करना: हेपेटाइटिस वायरस के प्रसार को कम करने के लिए टीकाकरण, सुरक्षित इंजेक्शन प्रथाएं और अन्य रोकथामी उपायों को प्रोत्साहित करना।

इस दिन के अवसर पर विभिन्न संगठन, सरकारें और स्वास्थ्य संस्थान जागरूकता अभियान, मुफ्त जांच पहल, सेमिनार और कार्यक्रम आयोजित करते हैं ताकि वायरल हेपेटाइटिस के बारे में जनता को जागरूक किया जा सके।

विश्व हेपेटाइटिस दिवस के माध्यम से हम सभी को स्वस्थ जीवन की दिशा में कदम बढ़ाने के लिए प्रेरित किया जाता है, ताकि हम सभी मिलकर वायरल हेपेटाइटिस से निपट सकें और स्वस्थ और समृद्धि भरा जीवन जी सकें।


यह भी पढ़े – Understanding Environmental and Climate Change


Understanding Hepatitis: Types and Overview

हेपेटाइटिस वायरस कई प्रकार के होते हैं, जिनमें पांच प्रमुख प्रकार होते हैं – हेपेटाइटिस ए, हेपेटाइटिस बी, हेपेटाइटिस सी, हेपेटाइटिस डी और हेपेटाइटिस ई। इन पांच प्रकार के हेपेटाइटिस वायरस इन्फेक्शन में व्यक्ति के शरीर में लिवर में संक्रमण होता है और विभिन्न रूपों में प्रकट हो सकता है।

  1. हेपेटाइटिस ए (Hepatitis A): – यह वायरस आहार और पानी के संक्रमित भोजन के माध्यम से फैलता है। इसके लक्षण मस्तिष्कीय निमोनिया, उलटी, पेट दर्द, बुखार, ज्वर आदि होते हैं। हेपेटाइटिस ए इन्फेक्शन गंभीर नहीं होता है और बचाव और उपचार के लिए टीकाकरण की सुविधा उपलब्ध होती है।
  2. हेपेटाइटिस बी (Hepatitis B): यह वायरस रक्त, शरीर के अन्य तरल अवयवों, संभावित संबंधों और शेयर्ड नीडल्स के माध्यम से फैलता है। यह अस्थायी या स्थायी रूप से असाध्य बन सकता है और गंभीर लिवर समस्याओं का कारण बन सकता है। विशेषज्ञों द्वारा विकसित टीकाकरण से इस इन्फेक्शन को रोका जा सकता है।
  3. हेपेटाइटिस सी (Hepatitis C): यह वायरस रक्त संचय, निमोनिया, विभिन्न शरीरीय तरल और शेयर्ड नीडल्स के माध्यम से फैलता है। यह अस्थायी रूप से असाध्य बन सकता है और लिवर समस्याओं का मुख्य कारण है।
  4. हेपेटाइटिस डी (Hepatitis D): यह वायरस केवल उन लोगों में विकसित हो सकता है जो पहले से हेपेटाइटिस बी से संक्रमित हैं। इसे सुपरइंफेक्शन के रूप में जाना जाता है और यह लिवर से संबंधित गंभीर समस्याओं का कारण बनता है।
  5. हेपेटाइटिस ई (Hepatitis E): यह वायरस पानी से संक्रमित भोजन के माध्यम से फैलता है। यह आम तौर पर स्वच्छ पानी के अभाव में विकसित होता है और गर्भवती महिलाओं के लिए विशेष खतरा प्रदान करता है।

ये पांच प्रकार के हेपेटाइटिस वायरस इंफेक्शन लिवर के स्वास्थ्य पर असर डाल सकते हैं और समय रहते उचित चिकित्सा सेवा और उपचार से इन्फेक्शन को नियंत्रित करना आवश्यक होता है। विशेषज्ञों की सलाह और संबंधित परीक्षणों के माध्यम से हम हेपेटाइटिस से बचाव और उपचार कर सकते हैं।

Post Views: 155